Category Archives: fun

t is one of the beautiful and the newest lake in Naya Raipur. Sendh Lake is the most beautiful attraction of this planned city of Chattisgarh. The road side along the perimeter of the lake makes a open space for a long drive along it. The drive along the lake side is not less than the Marine Drive of Mumbai.

The new lake is getting more popular as the days goes by. Travelers from all around the world come to its magnificent sunset view. It is a place where anyone can relax peacefully and easily spent an evening with no city rush.

Special in Sendh Lake: A long drive along the Lake perimeter

 

bpl-rt3050575-large

 

नया रायपुर में सेंट्रल पार्क 32 करोड़ रुपए की लागत से तैयार किया जा रहा है। 70 एकड़ पार्क की लैंड स्केपिंग और कुछ अन्य निर्माण पर खर्च किए जा रहे हैं। यह राशि मुख्य रूप से उद्यान की लैेंड स्केपिंग सहित बेसिक इंफ्रास्ट्रक्चर पर खर्च हो रही है। इसके बाद लगभग इतनी ही राशि दूसरे फेज में खर्च करने की तैयारी है।

सेंट्रल पार्क को जीएमआर चौक के दोनों तरफ उत्तर और दक्षिण हिस्से में बांटकर विकसित किया जा रहा है। प्रत्येक हिस्सा 35 एकड़ का है। दोनों हिस्सों में आम लोगों की सुविधा के हिसाब से बस पार्किंग, कार पार्किंग, टैक्सी स्टैंड, स्कूटर पार्किंग, रेस्टॉरेंट, फूड स्टॉल, टॉयलेट आदि का इंतजाम किया जाएगा।

इमर्सिव डोम पर 7 करोड़

इमर्सिव डोम पर सात करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। जर्मन तकनीक से बने इस अधलेटे अवस्था में डोम पर करीब आधे घंटे की मूवी या डॉक्यूमेंट्री दिखाने का इंतजाम किया गया है। 150 लोगों के एक साथ बैठने की व्यवस्था की गई है। तकनीक से लेकर सारा सामान जर्मन से मंगाया गया है।

ट्रैफिक पार्क

उत्तरी हिस्से में आम नागरिकों और बच्चों को ट्रैफिक नियमों से परिचित कराने केलिए ट्रैफिक पार्क तैयार किया जा रहा है। इस पार्क में ट्रैफिक नियमों को चित्रित किया जाएगा। पार्क बनकर तैयार होगा तो यहां लोग घूमने के साथ ट्रैफिक के मामले में शिक्षित भी होंगे।

बच्चों के लिए खासा खर्च

पार्क में बच्चों के लिए करोड़ों रुपए खर्च किए जा रहे हैं। पार्क के उत्तरी हिस्से में स्केटिंग प्लेटफॉर्म तैयार किया जा रहा है। इसके दोनों तरफ सांप-सीढ़ी और चेस का प्लेटफार्म तैयार किया जा रहा है। जिस पर आदमकद गोटियां और रखी जाएंगी, जिसे सरका कर बच्चे खेल सकेंगे। वहीं बड़े बच्चों का पार्क डिवेलप किया जा रहा है, जिसमें झूला के अलावा विभिन्न प्रकार की खेल सामग्रियां रहेंगी।

दक्षिण हिस्से में एम्फीथिएटर

पार्क के दक्षिण हिस्से में एम्फीथिएटर विकसित किया जा रहा है। इस थिएटर में 1500 लोगों के बैठने की व्यवस्था की जा रही है। थिएटर का इस्तेमाल नाटक आदि के अलावा विविध आयोजनों के लिए किया जा सकेगा।

जोडियक पार्क पर करोड़ों खर्च

पार्क के दक्षिणी हिस्से में जोडियक पार्क विकसित किया जा रहा है, जिसमें राशि के हिसाब से विभिन्न मुद्राएं निर्मित की गई हैं। इस उद्यान पर भी करोड़ों रुपए खर्च किए जा रहे हैं। इसके अलावा ग्रह-मंडल का विकास किया जा रहा है, जो तारामंडल की तर्ज पर होगा।

बुजुर्गों के लिए हट्स

उद्यान के दक्षिणी हिस्से में सीनियर सिटीजन हट्स यानी बुजुर्गों के लिए झोपड़ीनुमा संरचना तैयार की जा रही है, जिसमें उनके बैठने और लेटकर आराम करने की व्यवस्था होगी। इसी से लगा एक योगा पार्क भी होगा।

रंगीन मछलियों का तालाब

रंगीन मछलियों का एक छोटा तालाब विकसित किया जाएगा, जिसमें दुनियाभर की रंग-बिरंगी मछलियों को पाला जाएगा। अफसरों का कहना है कि यह पूरे प्रदेश के लिए कौतुहल का विषय बनेगा।

फुलवारी यानी गार्डन आफ फ्रेगरेंस

सेंट्रल पार्क के उत्तरी और दक्षिणी दोनों हिस्सों में दो फुलवारियां विकसित की जाएंगी, जिसे गार्डन ऑफ फ्रेगरेंस नाम दिया गया है। इन पार्क में खुशबूदार फूल के पौधे लगाए जाएंगे।

Disclaimer: This page is private page just to provide information to public about Jungle Safari .  for ticket booking or any more information, please contact Jungle Safari office at Nayaraipur.

Nandan Van Zoo & Safari:    

 

  • The Nandan Van Zoo & Safari (Jungle Safari,Naya Raipur)will become an important focus for Chhattisgarh and their interest in living in a world where people of all ages are not only delighted by the diversity of the living world that surrounds us, but are committed to protecting the integrity of its “wild life” and “wild places”.

 

  • To create a Wild Life Conservation & Awareness centre for the people of Chhattisgarh and for the Tourists across the World.
  • To create a natural, wild education, research cum amusement centre for the people of Naya Raipur.
  • To complement and strengthen the national efforts in conservation of fauna.

The Whole 202.87 Ha area is planned into 8 Zone

  • Monument Zone
  1. Parking Zone

(Parking space for more than 100 Buses, 300 Cars and 640 Two wheelers along with visitor’s and Driver’s Facilities.)

3. Administrative Zone

( Office and Residential Spaces for the official appointed for the Management)

4.Water Zone

( Special Features Like Floating Garden, Water Birds Area, Pathways )

5.Waiting Zone

( This Zone is especially for entertainment purpose of visitors as it has the features like Amphi-theatre, I-Max Theatre, Canteens,Food Courts,Museum, Orientation Center,Floating Deck,Nature Camp)

6.Zoo Zone

The Zoo Zone has many Animal Enclosure with the Landscape theme of Indian Biographical Zone.

7.Safari Zone

This Zone has 4 Safari i.e.,

  1. Herbivore Safari,
  2. Bear Safari,
  3. Tiger Safari
  4. Lion Safari

8.Management Zone

 

14889851_1153782027993003_4668116603806086912_o

 

14889810_1153782917992914_7730641278715732878_o 14753286_1153785154659357_538958550470777909_o

20170717_0706051326

20170718_0613044075 20170718_0612344704 20170718_0612281383 20170718_0612200822 20170718_0612027330 20170718_0612105421 20170717_0828061710 20170717_0705589385 20170717_0705461604 20170717_0705385483 20170717_0705325252 20170717_0705307611 20170717_0705233030

Google map:

https://www.google.co.in/maps/place/Jungle+Safari+Naya+Raipur/@21.0938988,81.7804808,13z/data=!4m5!3m4!1s0x0:0x3b2644d7c224a15a!8m2!3d21.0938988!4d81.7804808

 

 

Gallery